Explore Palampur Tourism.

पालमपुर भारत के हिमाचल प्रदेश के कांगड़ा जिले का पहाड़ी शहर है। यह शहर अपने सुन्दर दृश्यों, बर्फ से लदे पहाड़ों एवं चाय बगानों के लिये प्रसिद्ध है।

काज़ा – शीत मरुस्थल में दुनिया के सबसे अधिक बसे हुए गांवों में से एक।

काजा हिमाचल प्रदेश के लाहौल और स्पीति जिले में स्पीति घाटी की राजधानी और क्षेत्रीय मुख्यालय है। औसत समुद्र तल से ऊपर 3,800 मीटर (12,500 फीट) की ऊंचाई पर भारत के ट्रांस-हिमालयन क्षेत्र में स्थित, स्पीति घाटी में सबसे बड़ा और सबसे विकसित शहर काजा है।

धर्मशाला – हिमालय के किनारे पर देवदार जंगल से घिरा हुआ पहाड़ी इलाका।

मैदानी इलाकों के ऊपर और घने पाइन के पेड़, देवदार वन, कई नदियों और एक शांत स्वस्थ वातावरण से घिरा धर्मशाला, पृथ्वी पर स्वर्ग का एक टुकड़ा है। “धर्मशाला” का शाब्दिक अर्थ है “एक आध्यात्मिक आवास” और ढीली अनुवाद में तीर्थयात्रियों और यात्रियों के लिए एक आश्रय या विश्राम घर के रूप में।

बैजनाथ मंदिर हिमाचल प्रदेश|

बैजनाथ मंदिर हिमाचल प्रदेश का एक सम्मानित मंदिर है। बीआस घाटी में पालमपुर से 16 किलोमीटर की दूरी पर स्थित बैजनाथ मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। दीवारों पर शिलालेखों के अनुसार, बैजनाथ मंदिर का निर्माण दो देशी व्यापारियों द्वारा 1204 ई। में आहुका और म्युनुका के नाम से किया गया था। इस मंदिर की संरचना…

Bhootnath Mandir, Himachal Pradesh

हिमाचल प्रदेश के जिला मंडी में बाबा भूतनाथ मंदिर का शिवलिंग स्वयंभू है, जो प्राचीन काल से ही यहां के लोगों के प्रमुख अराध्य देव हैं तथा लाखों लोगों की अटूट आस्था के प्रतीक हैं।

Manimahesh Kailash Yatra – Holy Dip 2016

The lake, of glacial origin, is in the upper reaches of the Ghoi nala, which is tributary of Budhil river, a tributary of the Ravi River in Himachal Pradesh. However, the lake is the source of a tributary of the Budhil River, known as Manimahesh Ganga. Manimahesh Kailash also known as Chamba Kailash, which stands…

Jai Shri Sankat Mochan – Jakhoo Temple, Shimla

Jakhoo Temple is an ancient temple in Shimla, dedicated to Hindu deity, Hanuman. This temple is very easily approachable and  is one of the most sought after site to be visited not only by the devotees  and pilgrims but also by the tourists of all age groups visiting Shimla, the Hill capital of  Himachal Pradesh….

25th Jan Statehood Day of Himachal Pradesh

On 18 December 1970 the State of Himachal Pradesh Act was passed by Parliament and the new state came into being on 25 January 1971.Himachal Pradesh, which is one of the fast growing state in the country situated on the top of the North part. Before the independence most of the areas of this state was the part of Punjab state and during that time this region was divided into four different region such Chamba, Mandi, Shimla etc. and during that time these three areas had made so many progress in the infrastructure as well as in the transport and also they have created so many historical monuments which you can see nowadays in the state.

Shri Naina Devi Temple

Shri Naina Devi Temple is located on an altitude of 1177 meters in Distt. Bilaspur, Himachal Pradesh. Several mythological stories are associated with the establishment of the temple.According to a legend, Goddess Sati burnt herself alive in Yagna, which distressed Lord Shiva. He picked the corpse of Sati on her shoulder and started his Taandav…

Maa Chamunda Devi

The mythology of Maa Chamunda Devi has been chronicled in “Durga Sapt-Shati’.The Chamunda Devi Temple is located  in the District Kangra,  Himachal Pradesh a North Indian State. It stands on the banks of the famous Baan Ganga River, the temple is housed with extremely sacred idol of Chamunda Devi, and as such the idol is wrapped…